हल्द्वानी: 21 सालों के टूटे सपने 21 महीनों में पूरा करेंगी आप, सिसोदिया की जनसभा से हल्द्वानी में बढ़ा सियासी तापमान…

MANISH SISODIYA AAP HALDWANI
खबर शेयर करें

HALDWANI NEWS: आज दिल्ली के उप मुख्यमंत्री एवं आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया ने हल्द्वानी के रामलीला मैदान पर हल्द्वानी की जनता से बच्चों के बेहतर स्कूल के लिए आप को वोट देने की अपील की है। सिसोदिया ने कहा कि उत्तराखंड में भाजपा और कांग्रेस ने बारी-बारी से सरकार चलाई और प्रदेश को बर्बाद किया। शिक्षा, रोजगार, ट्रांसपोर्टेशन आदि सभी मामलों में जनता के साथ धोखा किया गया। आगामी चुनाव में आम आदमी पार्टी की सरकार बनी, तो दिल्ली की तर्ज पर उत्तराखंड का विकास किया जाएगा।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि जब मैं एयरपोर्ट से यहां आ रहा था तो रास्ते में लालकुआं के सरकारी स्कूल के मां सरस्वती के प्रांगण में रुका। स्कूल की हालत इतनी खबरा थी कि ऐसा खराब स्कूल मैंने अपनी जिंदगी में नहीं देखा। वहां पर दो छोटे छोटे कमरे बने हैं जिनमें एक में प्रिंसिपल बैठते हैं। टीन की शेड बनाकर ईंट की कच्ची दीवार बना दी और वहीं कक्षा 1, 2, 3 और 4 लिखकर बच्चे जमीन पर बैठकर पढ़ते हैं। सिसोदिया ने कहा कि उत्तराखंड के बच्चे का भविष्य यहां की सरकारों द्वारा बर्बाद किया जा रहा है। ये सरकार बड़े-बड़े दावे करते हैं। हमने इतने काम कर दिए, अखबारों में विज्ञापन देते हैं। अगर उत्तराखंड के स्कूल के बच्चों के लिए स्कूल ना बना पाए तो, इनको डूब मरना चाहिए। उत्तराखंड के बच्चों के भविष्य के लिए कोई काम नहीं किया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्‍तराखंड: अब ATM से मिलेगा सस्ते गले का राशन, पढ़िए पूरी खबर

उन्होंने कहा कि जब हम दिल्ली में सरकार में आए थे, तो दिल्ली के सरकारी स्कूलों की हालत भी लगभग ऐसी थी, लेकिन अरविंद केजरीवाल ने काम करने की नियत से सरकार चलाई। 5 साल में दिल्ली के सरकारी स्कूल कहां से कहां पहुंच गए। पिछले 21 सालों में बीजेपी और कांग्रेस के राज में एक भी स्कूल ठीक नहीं हुआ जबकि केजरीवाल ने 5 साल में दिल्ली के सभी स्कूल ठीक कर दिए। अगर दिल्ली में स्कूल ठीक हो सकते हैं तो उत्तराखंड में क्यों नहीं हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि ये बीजेपी और कांग्रेस के नेताओं की साजिश है। उत्तराखंड के बच्चों के खिलाफ बीजेपी और कांग्रेस के लोग साजिश करते रहे। उनको पता है अगर यह बच्चा अच्छा पढ़ गया तो सवाल पूछेंगे, आंखों में आंखें डाल कर पूछेंगे, बताओ हमारे हक का हिस्सा कहां है। ये नेता आपके बच्चों के हक की चोरी करते हैं इसलिए आपको बच्चों को पढऩे नहीं देना चाहते।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: यहां मिली युवक की अर्धनग्न लाश, पास में मिली ये चीजें

उन्होंने कहा कि जनता ने इन दोनों दलों को देख लिया है। वोट मांगने आए तो कहना, इस बार तुमको भी देख लिया। अबकीवोट मांगने आए तो कहना, इस बार वोट तो स्कूल के नाम पर पड़ेगा। ना कांग्रेस का नाम पर, ना बीजेपी के नाम पर पड़ेगा। इस बार का वोट स्कूल के नाम पर पड़ेगा। उन्होंने कहा अगर दिल्ली में 24 घंटे सस्ती बिजली, फ्री बिजली मिल सकती है तो उत्तराखंड में क्यों नहीं। अगर दिल्ली सरकार लाखों युवाओं को रोजगार दे सकती है 17000 टीचर भर्ती कर सकती है तो उत्तराखंड में भी कर सकती है। कुल मिलाकर सिसोदिया हल्द्वानी में चुनावी माहौल गर्म कर गये।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *