Health Tips: ब्रेड खाने के हैं शौकीन, तो इन बातों पर जरूर दें ध्यान

खबर शेयर करें

Health Tips: ब्रेकफास्ट में लोग अक्सर ब्रेड खाना पसंद करते हैं, ब्रेड का इस्तेमाल लोग कई तरीकों से करते हैं जैसे सैंडविच के लिए तो इसका इस्तेमाल ब्रेड टोस्ट के लिए करता है. ब्रेड के कई प्रकार होते हैं जैसे क्लासिक मिल्क ब्रेड और ब्राउन ब्रेड से लेकर पिटा ब्रेड, फ़ोकैसिया, ब्रियोचे और बहुत कुछ तक, कई विकल्प हैं, जो आपको अपनी ओर खींचते हैं. हालांकि सभी ब्रेड्स को बनाने का तरीका अलग होगा है, ये एक तरह से नहीं बनाई जाती हैं, इसलिए किराना काउंटर पर बिल देने से पहले ब्रेड के पैकेट पर लगे लेबल पर नजर डालें.

हिडेन शुगर : हम सभी जानते हैं कि ब्रेड बनाने में खमीर अहम रोल निभाता है, ऐसे में खमीर को एक्टिव रखने के लिए कुछ मात्रा में शुगर मिलाई जाती है. इसलिए, जब भी आप ब्रेड खरीद रहे हों, तो लेबल पर अतिरिक्त चीनी (किसी भी रूप में) की जांच करें, क्योंकि कारखाने में बनी ब्रेड में अक्सर भोजन की नमी बनाए रखने के लिए अतिरिक्त चीनी, गन्ने का रस, शहद और ऐसे अन्य मिठास का उपयोग किया जाता है.

यह भी पढ़ें 👉   Big News: उत्तराखण्ड पीसीएस प्रारंभिक परीक्षा स्थगित, UKPSC ने घोषित की नई तारीख

सामग्री :  हम अक्सर ब्राउन ब्रेड, वीट ब्रेड और मल्टी-ग्रेन ब्रेड चुनते हैं, यह सोचकर कि ये हेल्थ के लिए अच्छे हैं, लेकिन दुर्भाग्यवश हमेशा ऐसा नहीं होता है. कारखाने अक्सर उन्हें स्वादिष्ट बनाने के लिए बताए गे आटे के साथ अन्य प्रकार के आटे को भी मिलाते हैं. इसलिए, हमेशा कुछ भी खरीदने से पहले पैकेट के पीछे लिखी गई सामग्री की जांच जरूर करें.

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी: (बड़ी खबर)- बनभूलपुरा में एक ही परिवार के पांच लोगों को मारा चाकू, सनसनी

नमक की मात्रा : चीनी की तरह ही ब्रेड बनाने के लिए नमक की जरूरत होती है, लेकिन अक्सर ब्रांड स्वाद बढ़ाने के लिए आवश्यकता से अधिक नमक मिला देते हैं. मिशिगन स्टेट यूनिवर्सिटी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रेड के एक टुकड़े में 100-200 मिलीग्राम से ज्यादा सोडियम नहीं होना चाहिए. इसलिए, नमक की कुल मात्रा के अनुसार लेबल की जांच करें और निर्णय लें.

Best Before Date : ब्रेड खरीदते समय शायद यह सबसे पहली चीज है जो आपको देखनी चाहिए. ताजी और मुलायम ब्रेड के लिए Best Before Date जरूर देखें.

यह भी पढ़ें 👉  Live News: चंपावत में दुष्कर्म के बाद नाबालिग हुई गर्भवती, आरोपी की तलाश जारी

preservatives : जब तक ब्रेड फ्रेश रहती है इसका टेस्ट अच्छा रहता है, लेकिन अफसोस की बात है कि कई ब्रांड अक्सर ब्रेड के स्वाद, बनावट और ताजगी को बढ़ाने के लिए preservatives उपयोग करते हैं. ऐसे में पैकेट पर preservatives जरूर देखें.

फाइबर कंटेंट : फाइबर ब्रेड में होने वाला सबसे लोकप्रिय कंटेंट है, लेकिन ब्रेड को बनाने की प्रकिया के दौरान अक्सर फाइबर काफी हद तक कम हो जाता है, जिससे ये हेल्दी प्रोडक्ट नहीं रह जाता है, इसलिए, ब्रेड का पैकेट खरीदते वक्त लेबल पर फाइबर की मात्रा जरूर देखें.

tyle> .ad { display: block; margin: 0 auto 8px; width: 100%; max-width: 640px; } Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad Ad Ad Ad Ad

पहाड़ प्रभात डैस्क

संपादक - जीवन राज ईमेल - [email protected]