Good News: यहां खुला देश का पहला गर्ल्स सैनिक स्कूल, ऐसे करें अपनी बेटी का एडमिशन…

खबर शेयर करें

Girls Sainik school : देश के पहला गर्ल्स सैनिक स्कूल यूपी के वृंदावन में खुला है. इसका उद्घाटन रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया. वृंदावन में खुले पहले बालिका सैनिक स्कूल का नाम ‘संविद गुरुकुलम सैनिक स्कूल’ है. पूरे स्कूल में कुल 870 छात्राओं को शिक्षा एवं प्रशिक्षण दिया जा सकेगा.इस स्कूल का उद्घाटन सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में गैर सरकारी संगठनों/निजी/राज्य सरकारी विद्यालयों के साथ साझेदारी के अंतर्गत 100 नए सैनिक स्कूलों की स्थापना की पहल के तहत किया गया है. इस पहले के तहत 42 विद्यालय स्थापित किए जा चुके हैं. 100 नए सैनिक स्कूलों की स्थापना के तहत जो भी स्कूल बनेंगे वे मौजूदा 33 सैनिक स्कूलों के अतिरिक्त बनने वाले विद्यालय होंगे.

उद्घाटन के समय रक्षा मंत्री सिंह ने कहा, ‘संविद गुरुकुल गर्ल्स सैनिक स्कूल उन लड़कियों के लिए प्रकाश की किरण है जो सशस्त्र बलों में शामिल होने और मातृभूमि की सेवा करने की इच्छा रखती हैं.’ जानिए इस स्कूल में कैसे मिलेगा दाखिला, क्या होगी पढ़ाई. इस सैनिक स्कूल में CBSE करिकुलम से पढ़ाई होगी, स्टूडेंट्स को मिलिट्री ट्रेनिंग भी दी जाएगी. सैनिक स्कूल में 120 सीटें हैं.

यह भी पढ़ें 👉  IND vs ZIM: जिम्बाबे के साथ कल भिडे़गी शुभमन की सेना, इतने खिलाड़ी कर सकते डेब्‍यू

एडमिशन लिखित परीक्षा के आधार पर होगा. योग्य उम्मीदवारों को ई-काउंसलिंग में भाग लेना होगा. राजनाथ सिंह ने 2019 में चरणबद्ध तरीके से सैनिक स्कूलों में लड़कियों के प्रवेश को मंजूरी दी थी. मिजोरम के सैनिक स्कूल छिंगछिप में रक्षा मंत्रालय द्वारा शुरू किए गए पायलट प्रोजेक्ट की सफलता के बाद यह निर्णय लिया गया था.

Girls Sainik school में एडमिशन के लिए लिखित परीक्षा 21 जनवरी 2024 को होनी थी, जिसे रीशेड्यूल किया गया, अब एग्जाम 28 जनवरी को होगा. इसके बाद गर्ल्स कैंडिडेट्स को मेरिट सूची जारी होने से ई-काउंसलिंग में भाग लेना होगा. छात्राओं को तीन बैच में एडमिशन दिया जाएगा. इस सैनिक स्कूल में कक्षा 6 से 12 तक की पढ़ाई होगी.समविद गुरुकुलम गर्ल्स सैनिक स्कूल में हर साल 120 छात्राएं पढ़ेंगी. इस स्कूल का पहला सत्र अप्रैल से शुरू होगा. आवेदन की प्रक्रिया पहले ही पूरी की जा चुकी हैं. लिखित परीक्षा 21 जनवरी को होगी.

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad

पहाड़ प्रभात डैस्क

संपादक - जीवन राज ईमेल - [email protected]